रात की चादर-हिंदी कविता – A2Z

सितारों की ओढ़नी से ये रात सुसज्जित है चंदा की बिंदिया माथे पर दमकती है रात की रानी मदहोशी सेचांदनी मे निखरती हैं फिर वही रात हैं खाविषों से धूलि हुई मैंने हाथ बढ़ा करकुछ सितारे समेटे हैं सपनो के बोयाम में रखकरछोड़ दिया है टिमटिमाहट तब परोसूँगी जब हसरतें उड़ान भरेंगी चंपा के गजरेContinue reading “रात की चादर-हिंदी कविता – A2Z”

मुसाफिर – हिंदी कविता – A2Z

चाँद रात का मुसाफिरभीनी गलियों में निकल पड़ता हैसितारों की कॉलोनी से गुज़रते हुएचौराहे पे चल पड़ता है झोले में चांदनी की छीटेंऔर खूशबूएं हज़ार हैमतवाला मुसाफिर चाँद हैफुर्सत की रात में टहलता है रुकता है, सुस्ताता हैमुसाफिरखाने की भीड़ छटती हैफिर चांदनी का कश मारकेरात के सन्नाटे को निगलता है धीमी आंच में थकContinue reading “मुसाफिर – हिंदी कविता – A2Z”

कुछ अनकही कुछ अनसुनी – हिंदी कविता – A2Z

जैसे स्लेट पर कोई चॉक फैल जाती हैवैसी चाँद की धीमी आंच पररात का सन्नाटा उबल रहा थाउन रात के सुनसान पलों मेंफिर ख्वाइशों ने ज़िन्दगी के नुमाइंदेबनकर सतह पकड़ीतुम्हारी कुछ अनकही कुछ अनसुनी बातेंरात की तरह परवाज़ चढ़ने लगीतुम्हारा अक्स, मुलायम चेहराजैसे घुलता गया मेरी दिनचर्या में“काश” की सीढ़ी लगाकर, सपनों नेबेशरम होने मेंContinue reading “कुछ अनकही कुछ अनसुनी – हिंदी कविता – A2Z”

The cute little girl # whatdoyousee

The sunshine glory is settling in the day while spring has spread its vivaciousness all around. The misty mountains are humming a gentle breeze caressing the blossoms and foliages alike. The trees canopies are absorbing abundance before the green grass drinks the daylight. As the day preps for galore, the little girl chirps ahead gigglingContinue reading “The cute little girl # whatdoyousee”

Spectacular night#whatdoyousee

Does this picture inspire you to write something? Yeah!! It does!! Here’s my entry:- Read in the tune of 3 blind mice!! Surreal Northern lights Surreal Northern lights See their vivid dazzle See their vivid dazzle Their magnificence had appetite for the night, Vibrant, synchronized, brilliantly bright, Did you ever see such a sight inContinue reading “Spectacular night#whatdoyousee”

Good morning: Daybreak #Writephoto

For visually challenged writers, the image shows a morning sky aflame above dark landscape, whose horizon is marked only by trees… Here’s my entry:- The slithery moonlight shined like snowflakes on oak trees while owls and bats perched upside down getting an overview. The trees dangled in their overgrown shadows and their wide cushioned leaves shiveredContinue reading “Good morning: Daybreak #Writephoto”

Lavish night-Eugi’s weekly prompt: glimmer

The prompt word is Glimmer! Here’s my entry:- “A glimmering night Moonlight scattered Jasmine lustful scent diffusing bright, Creamy gardenia mooning lilies Bloom like a flower is a simile! Moonlight romancing the breeze Sweet succulent honeysuckles squeeze! Dreams sing lullabies as the night dozes in restful sleep, Moonlight fans the fantasies in heaps! Heavenly flowerContinue reading “Lavish night-Eugi’s weekly prompt: glimmer”