Blog tour- Hemlata Bisht’s – Tum Tak

Today, I’m so excited to be participating in the blog tour for Hemlata, promoting her gorgeous fictional love story “ Tum Tak : Lucknow to Mumbai via Indore”

The book has hogged the limelight for being numero Uno in its category!! #1 bestseller!!

I’ve had the privilege to read this gripping tale and would love to share a sneak peek.

So what is Tum Tak about?

It’s an interesting gripping love story of palash and Harsha. A made for each other couple, deeply madly insanely in love but too inhibited and introspective, to confess.

A youthful love saga reverberating with youthfulness, hardships, adrenaline rushes, mellowed heartbeats, typical family life syndromes, career dilemmas and the excellent interplay of emotions in between!!

I read to find that story is setup in the middle class social circuit, depicting the independent life of hostels and also shows the trajectory of life as it transitions from being studious to being liberated and informed. The characters Palash and Harsha develop gradually in your imagination, etching an impression!!

My special mention goes for the cover, that features a train engine, that traverses a journey of love and rekindling of hearts, in the most unusual of ways!!

Here’s one of my favorite chapters, favorite profound lines:-

पलाश जैसा ही क्यूँ ढूंढ रही थी मैं? यह मेरी भी समझ से परे था। दिखाई ना देने वाली एक कच्ची सी डोर थी जो मेरे दिल को बाँधे मुझे उसकी तरफ़ खींचे जाती थी। पहले भी कई दोस्त बिछड़े लेकिन ऐसी तड़प तो कभी नहीं हुई थी! उससे यह बिछोह इतना भारी क्यूँ पड़ गया? ‘ऐसा क्या है उसमें कि रुक-रुक कर उसकी ही तरफ़ चल देती हूँ और चलते-चलते उस पर ही रुक जाती हूँ मैं। पलट-पलट कर उसे ही देखती हूँ। मेल बस उसे ही करना चाहती हूँ और केवल उसी की मेल पढ़ना चाहती हूँ। दुनिया में हर बात उससे ही जुड़ी हो, क्यूँ ऐसी ख़्वाहिशें? कोई वादा तो नहीं किया हमने कि साथ बना रहेगा। सब कुछ कितना औसत सा था सिवाय उसके। अब वो सब मामूली और बिनमोल पल इतने ख़ास और अनमोल क्यूँ लगने लगे?’ इन बातों का कोई जवाब नहीं था मेरे पास।

Interesting isn’t!! Aren’t you inquisitive, what happens next!! Read Hemlata Bisht’s “ Tum Tak” to find about the mesmerizing tale!!

Author’s bio

कथा जगत में यह कृति लेखिका हेमा बिष्ट का पहला क़दम है। पहले सॉफ्टवेयर इंजीनियर रह चुकी लेखिका फ़िलहाल मेलबर्न में रह कर अपने फोटोग्राफी और लेखन के शौक को जी रही हैं। अपने बारे में बताते हुए वे कहती हैं ‘‘जितना स्नेह और आत्मीयता इस दुनिया ने मेरे जीवन पर बरसाई है, उसके लिये मैं इसकी ऋणी हूँ। अपने लेखन से कुछ सुन्दरता और कुछ सकारात्मक यदि लौटा सकूँ, तो यह कोशिश मुझे ज़रूर करनी चाहिये। मेरे पास जो कुछ है, वो इसी दुनिया और आप सबसे मिला हुआ है। मैं इससे ज्यादा कहूँ कि मेरे लेखन में तेरा तुझको अर्पण वाला ही भाव प्रधान है।’’

You can contact Hemlata at:-

लेखिका wordpress के इस पेज पर सक्रिय है: https://realizationblog.wordpress.com यदि आपको यह कहानी पसन्द आई हो, तो लेखिका के नाम डाक इस पते पर डाली जा सकती है: hemwins@gmail.com

It’s time to say goodbye but I thoroughly enjoyed the read!! It was a pleasure to participate in your blog tour, Hemlata!!

You can grab a copy here:-

Thank you for reading, everyone!!

Published by Daisy

I write whenever ideas crunch and overwhelme me! It's my reaction outpour.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: